विकास ले लिए गाँव को लिया गोद

अप्लोम्ब फाउंडेशन द्वारा चलाये गए सर्वे कार्य के संपन्न होने के अवसर पर सहडा में ग्रामीणों के साथ बैठक की. इस वासर पर सहदा गाँव की समस्याओं से अवगत होते हुए वार्ड सदस्य रोहणी देवी ने बताया की गाँव में जल आपूर्ति के लिए पानी टंकी बनाया गया था लेकिन आपूर्ति हेतु जो मोटर लगाया गया था वह तीन वर्षो से ख़राब पड़ा है जिसकी सूचना विभाग को दी गई है लेकिन आजतक मरम्मत नही हो पाया है. मुख्य रूप से गाँव में पेयजल, सिचाई, विधुत एवं शिक्षा की समस्या है ग्रामीणों ने गाँव की तालाब की मरम्मत एवं जलमिनार लगाने की बात कही रोजगार की समस्या के चलते वहां के युवको को पलायन करना पड़ता है सभा में रोते हुए सतिया मसोमाथ ने बताया की उन्हें एक वर्ष से पेंसन नही मिल रहा है जिससे उसके परिवार में भूखमरी जैसी स्थिति पैदा हो गई है. शिष्ट मंडल पंचायत के मुखिया से मिलकर गाँव की समस्या से अवगत हुए उन्होंने गाँव में एक प्राथमिक चिकित्सा केंद्र की आवश्यकता पर जोर दिया. बैठक में रमेश कश्यप, वार्ड सदस्य रोहणी देवी के अलावा बनारस बिरहोर, अशोक बिरहोर, मानो देवी, फगुनी देवी, किरण भुइयां, सुनील भुइयां तथा सैकड़ो ग्रामीण ने भाग लिया. बैठक का नेतृत्व अप्लोम्ब फाउंडेशन के प्रोग्राम सचिव सुशांत मित्तल, संस्थापक सह सचिव प्रसेन सिन्हा, उपाध्यक्ष भागीरथ प्रसाद सिन्हा व मीडिया सचिव बिरेन्द्र कुमार ने की !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + 2 =