बिहार में एनजीओ के जरिए धोखधड़ी करने वाले ठग जेल में भेजे

बिहार पुलिस ने ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर लोगों से करोड़ों की ठगी करने वाले एक एनजीओ के संचालक को पुलिस ने पटना में गिरफ्तार किया है.  सिविल लाइन पुलिस ने कन्या कल्याण सोसायटी नामक एनजीओ के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष को गिरफ्तार किया है.
बिहार के सीपत क्षेत्र  के ग्राम कौडिय़ा की माधुरी लता राठौर की पुलिस को दी गई रिपोर्ट के आधार पर इनको पकड़ा गया है. महिला ने शिकायत में बताया था कि कन्या कल्याण सोसायटी नाम की एनजीओ जिसका कार्यालय व्यापार विहार में है, उसके निदेशक राजेश कुमार सिंह के जरिये ग्रामीण क्षेत्रों में एजेंट बनाकर धोकधडी की गई है. आरोप में बताया कि अभियुक्त जावों में जाकर कक्षा एक से 12 वीं तक की छात्राओं के नाम पर ग्रामीणों से फार्म भरवाकर पांच सौ रूपये ले रहे है. संस्था के जरिये चल रही योजना की बात कहकर इन लोगों द्वारा बालिकाओं को 15 सौ रूपये छात्रवृत्ति देने का झांसा देकर और उन बालिकाओं की आयु 18 वर्ष होने पर 50 हजार रूपये देने के आश्वासन की योजना बताकर धोखाधड़ी की गई है.
पुलिस जाँच में सामने आया कि बिहार के पटना निवासी राजेश कुमार सिंह पिता कमलेश सिंह ने वर्ष 2013 में बिलासपुर में कन्या कल्याण सोसायटी नाम से एनजीओ बनाकर व्यापार विहार में कार्यालय खोला. इसके बाद ग्रामीण क्षेत्र में एजेंट बनाये गए. उसने और उसके सहयोगियों ने लोगों को ठगने के  लिए एक योजना बनायी जिसमें कहा गया कि कक्षा पहली से 12 तक पढ़ने वाली छात्राओं के नाम प्रति वर्ष 500 रुपए जमा करने पर छात्रा को प्रतिवर्ष 1500 रुपए तक छात्रवृत्ति दी जाएगी. उसके 18 वर्ष पूरे करने पर 50 हजार अनुदान देने का झांसा भी दिया गया. एजेंटों ने गांव-गांव में घूमकर सदस्य बनाकर रुपए जमा किए लेकिन समय  पूरा होने पर लाभार्थियों को छात्रवृत्ति, विवाह अनुदान राशि और जमा रकम वापस नहीं की गई. लोगों ने जब रुपए वापस मांगे तो संस्था के संचालक व सचिव मोहम्मद ओसामा एजेंटों को धमकाने लगा. बाद में अपराधी ठग कार्यालय बंद कर फरार हो गए.
इस मामले की माधुरी लता राठौर ने आईजी पुलिस को लिखित शिकायत रिपोर्ट दी थी. महिला ने अपनी रिपोर्ट में जानकारी दी कि कन्या कल्याण सोसायटी चलने वालों के झांसे में आकर सैकड़ों ग्रामीण ठगी शिकार हो गए हैं. शिकायत के बाद सिविल लाइन पुलिस मामला दर्ज कर सोसायटी के सचिव मोहम्माद ओसामा को गिरफ्तार कर, बाद में अन्य को भी पकड़ा और उनसे पूछताछ की गई. पुलिस ने शिकायत की जांच कर सचिव मोहम्मद ओसामा को गिरफ्तार किया जिसे बाद में जेल भेजा. पुलिस ने मुख्य आरोपी को पटना के शंभुकुड़ा में छापा मारकर गिरफ्तार किया. इसके अलावा अध्यक्ष मोहर सिंह कुसरो, उपाध्यक्ष अशोक सिंह जगत को गिरफ्तार किया है. संचालक राजेश कुमार सिंह निवासी शंभुकुंड़ा थाना नौबतपुर पटना बिहार, अध्यक्ष मोहर सिंह कुसरो ग्राम दमिया थाना पाली जिला कोरबा, उपाध्यक्ष अशोक सिंह जगत निवासी मादन थाना पाली जिला कोरबा को धारा 420, 34 के तहत गिरफ्तार किया है.
मुख्य आरोपी राजेश सिंह ने पूरे क्षेत्र में एक लाख से अधिक सदस्य बनाकर 5 करोड़ रुपए जमा किए. गिरफ्तार अभियुक्तों ने लोगो से ठगी के जरिये इक्कठ्ठा किए गए धन से प्रोपर्टी और महंगी कार भी खरीदी है. इस रकम से आरोपी ने गायत्री नगर में 47 लाख रुपए का शानदार मकान खरीदा. इसके अलावा दो चार पहिया वाहन खरीदे थे. पुलिस ने मकान, वाहन और इनके दस्तावेज भी जब्त किये है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

80 + = 84