मिशन मीरा के तहत महिला द्वारा महिलाओं के लिए उदयपुर में ई-रिक्शा

Mission Meera

श्रीनाथजी सेवा संस्थान की ओर से मिशन मीरा के तहत उदयपुर, राजस्थान में महिलाओं को ई-रिक्षा का परीक्षण दिया जा रहा है. ताकि महिलाऐं आत्म निर्भर होकर आर्थिक रूप से सक्षम हो सके.

श्रीनाथजी सेवा संस्थान और प्रादेशिक परिवहन विभाग द्वारा उदयपुर में मिशन मीरा प्रोजेक्ट की शुरुआत की गई. मिशन मीरा का मुख्य उद्देश्य महिलाओं द्वारा महिलाओं की सुरक्षा करना है. मिशन मीरा के तहत महिओलाओं को ई-ऑटोरिक्शा प्रदान किया जायेगा.

ई-ऑटोरिक्शा के संचालन और चलने का प्रशिक्षण भी श्रीनाथजी सेवा संस्थान और प्रादेशिक परिवहन विभाग द्वारा दिया जाता है. मिशन मीरा के तह महिलाओं महिला रोजगार के लिए जून 17 में प्रशिक्षण दिया गया. इस प्रशिक्षण के लिए तीसरे बैच को ई-रिक्शा चलने के लिए शुरू किये गए बैच का उद्घाटन उदयपुर के जिला कलेक्टर ने किया. इस अवसर पर मिशन मीरा के प्रोजेक्ट संचालक और प्रादेशिक परिवहन अधिकारी डॉ. मन्ना लाल रावत, श्रीनाथजी सेवा संस्थान की अध्यक्ष साधना खथुरिया, जिले प्रमुख अधिकरीगण और नागरिक मौजूद थे. इस समारोह में पुराने बैच में प्रशिक्षित 25 महिलाओं को भी प्रशिक्षण के प्रमाण पत्र और ई-रिक्शा चलाने के लाइसेंस प्रदान किये गए.
अशोक लीलैंड की अशोक लीलैंड वाहन चालक प्रशिक्षण संस्थान द्वारा रेलमगरा, उदयपुर में महिलाओं को ई-रिक्शा और कार चलाने का प्रशिक्षण दिया गया है.
इसमें घरेलु महिओलाओं को श्रीनाथजी सेवा संस्थान द्वारा ई-रिक्शा के लिए मिशन मीरा में शामिल करने के लिए उदयपुर शहर की दस बस्तियों में सर्वे करवाया गया. सर्वे में महिलाओं को मिशन मीरा से वागत करवाया गया और इससे जुड़ने के लिए प्रेरित किया गया. मिशन मेरा उदयपुर के प्रादेशिक परिवहन अधिकारी डॉ. मन्ना लाल रावत द्वारा प्रारंभ किया गया है ताकि महिलाओं को रोजगार मिल सके और महिलाओं के परिवहन के लिए महिला रिक्शा चालक उपलब्ध हो से. श्रीनाथजी सेवा संस्थान की अध्यक्ष साधना खथुरिया ने अपनी टीम के साथ मिलकर मिशन मीरा को मूर्त रूप देने की शुरुआत की जिसके तहत उदयपुर में मिशन मीरा परियोजना कार्यरूप में एक अनुकरणीय परियोजना के रूप में सामने आई है.

सिलाई एवं मेंहदी सेंटर का उद्घाटन

बुनियादी विकास समाज सेवी संस्थान ने दिल्ली में सिलाई एवं मेंहदी सेंटर शुरु किया है, जिसमें जरूरतमंद गरीब महिलाओं व लड़कियों के लिए सिलाई एवम् मेहँदी सेंटर का शुभारम्भ लक्ष्मी नगर में किया गया. इस सिलाई एवं मेंहदी सेंटर का उद्घाटन शंकर पुर थाना के थानाध्यक्ष श्री वी. के. शर्मा ने किया.
इस अवसर पर उन्होंने कहा की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की जो शुरुआत संस्था ने की है वो वाकई एक प्रशंसा का कार्य है जिसके लिए उन्होंने संस्था के सभी पदाधिकारियों का आभार प्रकट किया. इस अवसर पर नेटा डिसूजा (महासचिव – अ .भा .महिला कांग्रेस) इशरत जहां (पूर्व निगम पार्षद), साई अनामिका (अध्यक्ष – दिल्ली प्रदेश महिला कांग्रेस) दीपक कुमार गुप्ता (उपाध्यक्ष ज़िला कृष्णा नगर) नबीला अहमद (महासचिव – दिल्ली प्रदेश महिला कांग्रेस) चौधरी सलमान क़ादिर (प्रवक्ता – उ प्र कांग्रेस कमेटी अल्पसंख्यक विभाग) शहाना मसूद( पूर्व कागे्रस उम्मीदवार) फ़रीद अहमद समाज सेवक एवं अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे.

कुड़वार थाना परिसर में कराया वृक्षारोपण

नई दिल्ली| “जय श्री फाउण्डेशन” और “घर सुल्तानपुर फाउण्डेशन” के संयुक्त तत्वाधान में 13 जुलाई 17 को “वृक्षारोपण अभियान” कार्यक्रम के अंतर्गत कुड़वार थाना परिसर में आम, अशोका, नीम आदि वृक्षो का वृक्षारोपण थानाधिकारी अजय प्रताप सिंह की उपस्थिति में कराया गया। और साथ ही कार्यक्रम में उप्स्थित सभी को वृक्ष लगाने, पर्यावरण को बचाने और प्रदूषण न फैलाने की शपथ दिलाई गई। इस मौके पर मोहित मयंक तिवारी, शिवाकान्त पाण्डेय, संतोष पाण्डेय, आदित्य तिवारी, राजेश तिवारी, सत्यम पाण्डेय, उप निरीक्षक हवलदार यादव, सुनील कुमार वाजपेयी सहित दर्जनों संस्था कार्यकर्ता मौजूद रहे।

दीपावली पर बच्चों द्वारा किया गया वृक्षारोपण

ग्रामीण सेवा संस्था द्वारा किये गये जागरूकता अभियान का दिखा असर अभिभावकों से अपील किया गया था कि दीपावली के दिन अपने घर के बच्चों से कम,से कम एक पेड़ अवश्य लगवाये जिसका असर देखने को मिला । ग्रामीण सेवा संस्था के सचिव श्री भूपेन्द्र सिंह ने बात की उस दिन पचपन बच्चों ने किया वृक्षारोपण ।

स्कूल की बिल्डिंग के उद्घाटन के अवसर पर पौधारोपण

7 अक्टूबर 2017 को जौहरी पुर (दिल्ली)  स्थित एक सरकारी विद्यालय के नव निर्माण के उद्घाटन के अवसर पर आर्य मित्र राष्ट्र सेवा संस्थान द्वारा मुख्य अतिथि माननीय विधायक चौधरी फ़तेह सिंह एवं विद्यालय के प्रधानाचार्य को पौधा देकर सम्मानित किया और वृक्षारोपण किया।

इस अवसर पर संतान के मोहित त्यागी, कुंवर पाल, सूर्य कान्त, प्रदीप, प्रशांत व अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

पर्यावरण जागरूकता अभियान एवं वृक्षारोपण कार्यकम

पर्यावरण जागरूकता अभियान के तहत वृक्षारोपण कार्यक्रम का आयोजन उ. म. विद्यालय, शिकारपुर दानापुर, पटना में  किया गया । कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि विद्यालय के प्रधानाधापक राकेश कुमार एवं अभ्युदम अ  राइज ऑफ़ होप के सचिव  सुधांशु सुंदरम थे।
कार्यक्रम मे बच्चो को पर्यावरण संरक्षण एवं वृक्ष को अधिक संख्या में लगाने का आह्वान किया गया । कार्यक्रम में संस्था ने विद्यालय के प्रागण में आम, आमला, नारियल व महोगनी के वृक्ष लगाये एवं बच्चो को उसके संरक्षण की शपथ दिलाई गयी ।

अध्यात्म के साथ बही देशभक्ति, श्रंगार तथा हास्य की गंगा

राष्ट्रीय सामाजिक संस्था पिडिट्स के द्वारा जक्खिनी, राजातालाब, वाराणासी में आयोजित संगीतमय श्रीमद्भागवत कथा के समापन पर भव्य कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया।
इस आयोजन में प्रदेश के कई प्रसिद्ध कवि सम्मिलित हुये। कार्यक्रम के प्रारम्भ में बनारस के कवि अभि पण्डित ने “मै एक कहानी लिखता हूँ, तुम एक कहानी लिख जाना सुनाकर श्रोताओं का मन मोह लिया तो सुल्तानपुर से आये कवि प्रभात पाण्डेय की कश्मीरीघाटी पर बोली कविता सुनकर श्रोताओं के रोम रोम में देशभक्ति जाग उठी वहीं चन्दौली के कवि नंदशंकर पाठक के हास्य से जनता लोट पोट हो गयी। नंदशंकर जी ने काशी और बनारस की एक अलग तस्वीर श्रोताओं को बताई जिससे श्रोताओं के हॅसते हॅसते पेट में बल पड़ गये। चन्दौली की कवियित्री रूची पाण्डेय के श्रंगार के गीतों ने भी जमकर तालियाँ बटोरी।
इलाहाबाद से आये युवा कवि संक्षेप बरनवाल के मुक्तकों में गंगा जमुनी प्रभाव देखने को मिला वहीं बनारस के वरिष्ठ कवि विमल बिहारी जी की भोजपुरी एवं हिन्दी कविताओं को सुनकर जनता ने पुनः पढने का निवेदन किया। कानपुर से आये कवि सौरभ दीक्षित ने समाज की वर्तमान स्थिति की तस्वीर को अपनी कविता के माध्यम से प्रस्तुत किया। सौरभ दीक्षित की कविता ” रिश्तों में दीवारें बन गयी अपनी और पराई की। बाबा आये बड़े के हिस्से अम्मा छोटे भाई की सुनकर लोग भावुक हो उठे। कार्यक्रम के आयोजक श्री शिशिर कुमार उपाध्याय तथा प्रतीश कुमार शर्मा जी ने हमारे संवाददाता को बताया कि इस प्रकार के आयोजन हमारे समाज की एकता और अखण्डता के लिये अति आवश्यक हैं।
कार्यक्रम के मुख्य सूत्रधार श्री भरत सिंह तथा सुनील कुमार जी ने राष्ट्रीय सामाजिक संस्था पिडिट्स का धन्यवाद किया तथा ये विश्वास दिलाया है कि अब हर वर्ष इस प्रकार का कम से कम एक कार्यक्रम अवश्य आयोजित कराया जायेगा जिसमें समस्त जक्खिनी वासी ही नही अपितु आसपास के गाँवों के लोग भी सहभागिता करेंगें। एक तरफ जहाँ आयोजकां ने कवियों तथा भागवताचार्य श्री अवधबिहारी पाण्डेय जी का सम्मान किया वहीं दूसरी ओर पिडिट्स संस्था की ओर से समस्त आयोंजकों का तथा क्षेत्र के वरिष्ठजनों का सम्मान अंगवस्त्र, राधाकृष्ण के छायाचित्र वाला प्रतीक चिन्ह तथा संस्था का सम्मान प्रमाणपत्र देकर किया गया। भागवत कथा का आयोजन 10 अक्टूबर से 17 अक्टूबर 17 तक जक्खिनी के पंचायत भवन प्रागंण में किया गया इसमें भारी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

भोपाल शहर में हुआ रक्तदाताओं का सम्मान

भोपाल.  9 अक्टूबर को जीवन सार्थक सोशल एंड वेलफेयर सोसाइटी के द्वारा भोपाल शहर के रक्तदाताओं का सम्मान गांधी भवन में किया गया। संस्था द्वारा जल्दी ही ऑनलाइन ब्लड पोर्टल की भी शुरुआत किये जाने की जानकारी भी दी गई है।

इस अवसर पर भोपाल सांसद श्री आलोक संजर, श्री डॉ राकेश भार्गव, श्री जाहिद मीर एवं श्री डॉ अनंत सक्सेना मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए एवं विभिन ब्लड बैंक के प्रतिनिधि भी इस कार्यक्रम में सम्मिलित हुए।
इन सभी का स्वागत संस्था द्वारा पौधे देकर किया गया ।

इस के बाद रक्तदाता सम्मान समारोह का शुभारंभ सांसद श्री आलोक संजर के हाथों से किया गया।
इस अवसर पर करीब डेढ़ सौ रक्तदाताओं का सम्मान किया गया। दो से अधिक बार रक्तदान करने वाले रक्तदाताओं को ‘रक्त वीर एवं रक्त विरांगना’ की उपाधि प्रदान की गई।
रक्तदाताओं ने भी रक्तदान से जुडे़ अपने अनुभव साझा किये।
जीवन सार्थक समूह द्वारा शहर में रक्तदान के क्षेत्र में विगत 1 साल में 3138 ब्लड डोनेशन करवा के रक्तदान के क्षेत्र में नए कीर्तिमान स्थापित किये है. इसके साथ ही संस्था द्वारा जल्दी ही ऑनलाइन ब्लड पोर्टल की भी शुरुवात किये जाने की जानकारी भी दी गई।
रक्तदान के साथ ही ये संस्था समाज के हर वर्ग से जुड़कर विभिन्न सामाजिक गतिविधियों का आयोजन करती है।
ज्ञात हो की भोपाल में इस तरह का ये पहला आयोजन था जिसमें रक्तदाताओं को सम्मानित किया गया हो।
मुख्य अतिथियों के साथ ही समारोह में शामिल रक्तदाताओं ने इस समारोह की सराहना की।

वृक्षारोपण के साथ स्वच्छ भारत अभियान

Tree Plantation in Delhi

दिल्ली.  आर्य मित्र राष्ट्र सेवा संस्थान की ओर से दिल्ली में यमुना विहार फ्लाईओवर के नीचे वृक्षारोपण व सफाई कार्य किया गया।
पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री महात्मा गांधी की जयंती पर आज संस्थान द्वारा 121 वृक्ष लगाए गए. संस्थान द्वारा लोगों को जागरूक करते हुए वृक्षों तथा स्वच्छता का जीवन में  महत्व बताया गया।
मुख्य अतिथि के रूप में गोकलपुर विधायक फ़तह_सिंह मौजूद थे।
विभिन्न संगठनों से आये हुए कार्यकर्ताओं ने इस वृक्षारोपण में भाग लिया। आर्य मित्र राष्ट्र सेवा संस्थान के मोहित त्यागी की ओर से वृक्षारोपण में भाग लेने आए व्यक्तिओं और कर्यकर्ताओं को धन्यवाद दिया गया.

नदियों को बचाने के लिए जागरूकता अभियान

Environmet Campaign for Clean Riversइंदौर| नदियों को बचाने के लिए चल रहे राष्ट्रव्यापी जागरूकता अभियान नदियों के लिए रैली में हिस्सा लेते हुए अमोज़िश एजुकेशनल एंड रूरल अर्बन डेवलपमेंट सोसाइटी ने इंदौर में जागरूकता अभियान चलाया.

संस्था के अध्यक्ष अरशद खान ने बताया कि नदियों को फिर से जीवंत करने का सबसे आसान समाधान नदी के किनारों पर एक किलोमीटर से कम वृक्ष के कवर को बनाए रखना है।

युवाओं को जागरूकता के तहत बताया गया कि सरकारी भूमि पर वृक्षारोपण किया जा सकता है और पेड़-आधारित कृषि को कृषि भूमि पर लाया जा सकता है। इससे यह सुनिश्चित होगा कि नम मिट्टी से पूरे साल पूरे नदियों को खिलाया जाता है। इससे बाढ़, सूखा और मिट्टी की कमी भी कम हो जाएगी और किसानों की आय में वृद्धि होगी।

महिलाओं को भिलाई में सिलाई कढाई प्रशिक्षण दिया गया

भिलाई| एसकेजीएन संस्थान की ओर से भिलाई में महिलाओं को स्वरोजगार के लिए सिलाई व कढाई का प्रशिक्षण दिया गया. एसकेजीएन वीमेन वेलफेयर सोसाइटी की शहाना परवीन के अनुसार गरीब महिलाओं को आत्मनिर्भर बनने के लिए 2 साल तक सिलाई और कढाई का प्रशिक्षण आयोजित किया गया ताकि वे अपना स्वयं का कार्य कर सके. जिन महिलाओं ने प्रशिक्षण लिया हैं वे अपना कार्य खुद कर रही है और अपने परिवार की आजीविका चलाने में मदद कर रही है.

1 2 3 9